Breaking

Monday, February 4, 2019

चर्च में दान देने के लिए 10 रूपये अधिक है!

चर्च में दान देने के लिए 10 रूपये अधिक है! 

  • चर्च में दान देने के लिए 10 रूपये अधिक है!
  • लेकिन 1000रु. की खरीदारी बहुत कम है।


  •  2 समय प्रार्थना करना मुश्किल काम है।
  • लेकिन 2 घंटे की फिल्म आपको बोर नहीं लगती है।
  • प्रार्थना के लिए पर्याप्त शब्द नहीं हैं।
  •  लेकिन दूसरों के बारे में गपशप करने के लिए पर्याप्त शब्द हैं।
  • स्तुति आराधना अधिक लम्बी हो तो आपको बोर महसूस होता है।
  • लेकिन अगर टीवी पर कॉमेडी शो खत्म हो गए हैं तो दुखी महसूस करते है 
  • बाइबल से एक अध्याय पढ़ना कठिन है।
  •  लेकिन 100 पेज का उपन्यास बहुत आसान है।
  •  चर्च में पीछे की आखिरी सीट पर रहना पसंद है।
  •  लेकिन सांस्कृतिक कार्यक्रमों के लिए आगे की सीट पर रहना चाहते हैं।
  • प्रतिदिन के टी वी सीरियल को छोड़ना नहीं  चाहते।
  • लेकिन साप्ताहिक बाइबिल अध्ययन के लिए समय नहीं है।
  • प्रार्थना के समय, मन इधर-उधर भटकता है।
  • लेकिन खेल के समय में मन एक चीज पर ध्यान केंद्रित करते है।
  •  स्कूल और कार्यालय के लिए समय पर जाना है।
  • लेकिन चर्च में मीटिंग के लिए समय पर नही।
  •  पार्टी और खाना पसंद है।
  • लेकिन प्रभु की व्यारी की संगति को छोड़ देते है
  • बच्चों को स्कूल में विषयों पर अध्ययन करने के लिए मेहनत से तैयार करवाते है
  • लेकिन बच्चों को परमेश्वर के वचनों के अध्धयन के लिए कोई प्रयास नही करते
  • स्कूल में अनुशाषित कपड़े पहनाते है।
  • लेकिन चर्च में किसी भी कपड़े को पहनने देते है।
  •  स्वयं की प्रशंसा सुनना दूसरों के सामने अच्छा लगता है।
  • लेकिन दूसरों के सामने परमेश्वर  की स्तुति करने में शर्म आती है।
क्या यह हमारे जीवन में सच है? तो हमें एक बदलाव की आवश्यकता है


No comments:

Post a Comment