Breaking

Saturday, October 6, 2018

बाइबल में देखे परमेश्वर ने क्या कहा - See What The Bible Says In The Bible

बाइबल में देखे परमेश्वर ने क्या कहा - See What The Bible Says In The Bible JESUS HINDI


WWW.JESUSHINDI.COM


: मत्ती 27:26-31 26. इस पर उस ने बरअब्बा को उन के लिये छोड़ दिया, और यीशु को कोड़े लगवाकर सौंप दिया, कि क्रूस पर चढ़ाया जाए॥ 27. तब हाकिम के सिपाहियों ने यीशु को किले में ले जाकर सारी पलटन उसके चहुं ओर इकट्ठी की। 28. और उसके कपड़े उतारकर उसे किरिमजी बागा पहिनाया। 29. और काटों को मुकुट गूंथकर उसके सिर पर रखा; और उसके दाहिने हाथ में सरकण्डा दिया और उसके आगे घुटने टेककर उसे ठट्ठे में उड़ाने लगे, कि हे यहूदियों के राजा नमस्कार। 30. और उस पर थूका; और वही सरकण्डा लेकर उसके सिर पर मारने लगे। 31. जब वे उसका ठट्ठा कर चुके, तो वह बागा उस पर से उतारकर फिर उसी के कपड़े उसे पहिनाए, और क्रूस पर चढ़ाने के लिये ले चले॥


: मत्ती 24ः24 इस लिये परमेश्वर ने हमे बायबल दिया है हम शैतान के काम को पेहेचान ले


: मत्ती 24:24 24. क्योंकि झूठे मसीह और झूठे भविष्यद्वक्ता उठ खड़े होंगे, और बड़े चिन्ह और अद्भुत काम दिखाएंगे, कि यदि हो सके तो चुने हुओं को भी भरमा दें।


: २ थिस्सलुनीकियों 2:9,12 9. उस अधर्मी का आना शैतान के कार्य के अनुसार सब प्रकार की झूठी सामर्थ, और चिन्ह, और अद्भुत काम के साथ। 12. और जितने लोग सत्य की प्रतीति नहीं करते, वरन अधर्म से प्रसन्न होते हैं, सब दण्ड पाएं॥


: मत्ती 7:22-23

22. उस दिन बहुतेरे मुझ से कहेंगे; हे प्रभु, हे प्रभु, क्या हम ने तेरे नाम से भविष्यद्वाणी नहीं की, और तेरे नाम से दुष्टात्माओं को नहीं निकाला, और तेरे नाम से बहुत अचम्भे के काम नहीं किए?
23. तब मैं उन से खुलकर कह दूंगा कि मैं ने तुम को कभी नहीं जाना, हे कुकर्म करने वालों, मेरे पास से चले जाओ।

: उत्पत्ति 1:26-27 26. फिर परमेश्वर ने कहा, हम मनुष्य को अपने स्वरूप के अनुसार अपनी समानता में बनाएं; परमेश्वर ने( हम )क्यु कहा ? परमेश्वर ने ( मे )मनुष्य को बनावु गा परमेश्वर बहुवचन शब्द क्यु कहा(हम) JESUS HINDI 27. तब परमेश्वर ने मनुष्य को अपने स्वरूप के अनुसार उत्पन्न किया, अपने ही स्वरूप के अनुसार परमेश्वर ने उसको उत्पन्न किया, नर और नारी करके उसने मनुष्यों की सृष्टि की। परमेश्वर के पास नर और नारी का स्वरूप है नर स्वरूप को पिता परमेश्वर नारी स्वरूप को माता परमेश्वर


: गलातियों 4:26

26. पर ऊपर की यरूशलेम स्वतंत्र है, और वह हमारी माता है।

: जकर्याह 14:8 8. उस समय यरूशलेम से बहता हुआ जल फूट निकलेगा उसकी एक शाखा पूरब के ताल और दूसरी पच्छिम के समुद्र की ओर बहेगी, और धूप के दिनों में और जाड़े के दिनों में भी बराबर बहती रहेंगी॥


: प्रकाशित वाक्य 22:17

17. और आत्मा, और दुल्हिन दोनों कहती हैं, आ; और सुनने वाला भी कहे, कि आ; और जो प्यासा हो, वह आए और जो कोई चाहे वह जीवन का जल सेंतमेंत ले॥

: प्रकाशित वाक्य 21:10

10. यरूशलेम को स्वर्ग पर से परमेश्वर के पास से उतरते दिखाया।

: यूहन्ना 7:37-38 37. फिर पर्व के अंतिम दिन, जो मुख्य दिन है, यीशु खड़ा हुआ और पुकार कर कहा, यदि कोई प्यासा हो तो मेरे पास आकर पीए। 38. जो मुझ पर विश्वास करेगा, जैसा पवित्र शास्त्र में आया है उसके ह्रृदय में से जीवन के जल की नदियां बह निकलेंगी।


: यूहन्ना 4:10,14

10. यीशु ने उत्तर दिया, यदि तू परमेश्वर के वरदान को जानती, और यह भी जानती कि वह कौन है जो तुझ से कहता है; मुझे पानी पिला तो तू उस से मांगती, और वह तुझे जीवन का जल देता।
14. परन्तु जो कोई उस जल में से पीएगा जो मैं उसे दूंगा, वह फिर अनन्तकाल तक प्यासा न होगा: वरन जो जल मैं उसे दूंगा, वह उस में एक सोता बन जाएगा जो अनन्त जीवन के लिये उमड़ता रहेगा।

जीवन का जल परमेश्वर ही दे सकता है


जीवन का जल पाना है तो आत्मा और दुल्हिन दोनो पर विश्वास करना चाहिये


क्रूस की उपासना मूर्तिपूजा है आजकल ज्यादातर चर्च हठ करते है कि क्रूस चर्च का एक चिन्ह है,मूर्ति नही बाइबल में देखे परमेश्वर ने क्या कहा

JESUS HINDI
: निर्गमन 20:4-5
4. तू अपने लिये कोई मूर्ति खोदकर न बनाना, न किसी कि प्रतिमा बनाना, जो आकाश में, वा पृथ्वी पर, वा पृथ्वी के जल में है।
5. तू उन को दण्डवत न करना, और न उनकी उपासना करना; क्योंकि मैं तेरा परमेश्वर यहोवा जलन रखने वाला ईश्वर हूं, और जो मुझ से बैर रखते है, उनके बेटों, पोतों, और परपोतों को भी पितरों का दण्ड दिया करता हूं,


क्रूस भी एक मूर्ति है बायबल मे कोनसे भी वचन मे नही कहा क्रूस की उपासना करना


: लैव्यवस्था 26:1 1. तुम अपने लिये मूरतें न बनाना, और न कोई खुदी हुई मूर्ति वा लाट अपने लिये खड़ी करना, और न अपने देश में दण्डवत करने के लिये नक्काशीदार पत्थर स्थापन करना; क्योंकि मैं तुम्हारा परमेश्वर यहोवा हूं।


सांसार मे बहुत बेबीलोन के चर्च है वे हठ करते है क्रूस को परमेश्वर का चिन्ह है


: व्यवस्थाविवरण 27:15 15. शापित हो वह मनुष्य जो कोई मूर्ति कारीगर से खुदवाकर वा ढलवाकर निराले स्थान में स्थापन करे, क्योंकि इस से यहोवा को घृणा लगती है। तब सब लोग कहें, आमीन॥


यीशु के समय के बाद कई सदियों तक चर्च मे क्रूस नही था


क्रूस एक मूर्ति है जिसे 313 ई.मे रोमन सम्राट कोंसटेटाइन के द्वारा ईसाई धर्म का स्वीकार किए जाने के बाद चर्च के भष्ट होने पर चर्च में लाया गया


: यूहन्ना 3:14-15

14. और जिस रीति से मूसा ने जंगल में सांप को ऊंचे पर चढ़ाया, उसी रीति से अवश्य है कि मनुष्य का पुत्र भी ऊंचे पर चढ़ाया जाए।
15. ताकि जो कोई विश्वास करे उस में अनन्त जीवन पाए॥

हम येशू पर विश्वास करे तो अनन्त जीवन पाए गे !!


जो चर्च मे क्रूस खडा करते है वे सब नष्ट किये जाये गे


: प्रकाशित वाक्य 18:4 4. फिर मैं ने स्वर्ग से किसी और का शब्द सुना, कि हे मेरे लोगों, उस में से निकल आओ; कि तुम उसके पापों में भागी न हो, और उस की विपत्तियों में से कोई तुम पर आ न पड़े।


----------------------------------------------------------------------------------------------------
क्या यीशु परमेश्वर है,bible किताब, bible jesus hindi हिंदी, बाइबल अध्ययन, यिशु, yeshu kaun है,ईश्वर ने हमें क्यों बनाया
---------------------------------------------------------------------------------------------
jesus hindi

यदि आपके पास हिंदी में कोई आर्टिकय,और स्टोरी या जानकारी है जो आप हमारे साथ share करना चाहते हैं तो कृपया उसे अपनी फोटो के साथ हमें भेजे E-mail करें. हमारी Id है : JesusMasihi1@gmail.com.पसंद आने पर हम उसे आपके नाम और फोटो के साथ यहाँ PUBLISH करेंगे,अधिक जानकारी के लिए नीचे कमेन्ट करे. Thanks! जीसस  JESUS HINDI
| PRAISE THE LORD | | भगवान की स्तुति करो

No comments:

Post a Comment